SEO क्या है और सर्च इंजन कैसे काम करता है?

Published by Saurav Bhagat on

आज आपको SEO के बारे में बहुत सारी जानकारी मिलने वाली है जैसे SEO क्या है, SEO कितने प्रकार के होते हैं, SEO कैसे काम करता है, SEO के क्या-क्या फायदे हैं, इत्यादि के बारे में जानने वाले हैं।

आज की पूरी digital marketing और internet की दुनिया SEO से जुड़ी हुई है, बहुत सारे लोग अपने website को google के search result में top पे लाने के लिए SEO के ऊपर बहुत सारे पैसे खर्च कर रहें हैं।

अगर आप ब्लॉग्गिंग में नए हो तो आपने कई बार SEO का नाम सुन ही रखा होगा और बहुत कोई तो SEO ka नाम सुनकर ही डर जाते हैं, लेकिन आपको डरने की बिलकुल भी जरुरत नहीं है क्यूंकि मैं आपको बहुत ही आसान शब्दो में बताने वाला हूँ

आज के समय में आपने SEO के बारे में बहुत कुछ सुना होगा और बहुत कुछ जानते भी होंगे लेकिन क्या आप SEO के बारे में सब कुछ विस्तार में जानते हैं? अगर नहीं तो आप इस पोस्ट को शरू से लेकर अंत तक पढ़िए

SEO क्या है

SEO क्या है :-

SEO एक प्रकार की तकनीक होती है, जिसकी मदद से आप अपने contents (चाहे वह article हो या फिर videos) को search engine result में ज्यादा से ज्यादा ऊपर लेकर आ सकते हैं।

जैसे मान लीजिये अगर आप Google में जाकर कुछ भी keyword  या queries सर्च करते हैं तो उस queries से रिलेटेड Google आपको ढ़ेर सारे results show करता हैं।

Google जितने भी रिजल्ट्स show करता है, वह सब अलग-अलग ब्लॉग के पोस्ट होते हैं और उन्हीं में से जिसका सबसे अच्छा पोस्ट लिखा होता है और जिसने SEO को अच्छे से किया होता हैं, Google उन्हीं ही पोस्ट को पहला पेज पे show करता है।

Google सर्च रिजल्ट में जो आपको सबसे ऊपर website दिखता है या फिर आपको Google के पहला पेज में जो रिजल्ट दिखता है, वह सब SEO की मदद से ही किया जाता हैं।

जिस blog या website की जितनी अच्छी SEO की जाती है, गूगल उन वेबसाइट को उतना ही ऊपर सर्च रिजल्ट में दिखाती हैं।

SEO करने के लिए आपको बहुत सारे factors को ध्यान में रखकर काम करना होता है, तभी जाकर Google किसी के ब्लॉग या वेबसाइट को first page पे दिखता है।

जब आप अपने ब्लॉग के लिए अच्छे से SEO कर लेते हैं तब आपकी वेबसाइट Google के first page पे show होने लगती है और तभी जाकर वेबसाइट पे ज्यादा से ज्यादा users आने लगते हैं और आपकी blog से कमाई भी अच्छी होने लगती हैं।

SEO Ka Full Form :-

SEO का Full Form “Search Engine Optimization” होता है।

इसे हिंदी में भी “सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन“ ही कहा जाता है।

SEO कैसे काम करता है :-

Search engine 3 steps को follow करके काम करता है, जिसके नाम कुछ इस प्रकार हैं :-

  1. Crawling
  2. Indexing
  3. Ranking

इन्ही 3 स्टेप्स को फॉलो करके सर्च इंजन काम करता हैं और इसी मापदंडो के अनुसार वेबसाइट को रैंकिंग में ऊपर और नीचे किया जाता है।

चलिए अब एक एक करके तीनों स्टेप्स के बारे में विस्तार में जानते हैं :

1. Crawling :-

Crawling एक ऐसी प्रक्रिया होती है, जिसमे सर्च इंजन के Bots और Spider आपके website के सारे pages को को खोजकर एक जगह इकट्ठा करती हैं। और इसी प्रक्रिया को Crawling कहा जाता है।

2. Indexing :-

जब आपकी website  के pages को crawl कर लिया जाता है तब उसके बाद सर्च इंजन आपके pages को content  और quality के आधार पर indexing करता है।

Indexing का सीधा सा मतलब है की जब आपकी वेबसाइट के pages एक बार index हो जाती है तब आपकी वेबसाइट के pages सर्च इंजन में दिखने लग जाती है।

NOTE:- अगर आपकी वेबसाइट नई है तो सारे पेजेज को इंडेक्सिंग होने में एक से दो महीनों का समय लग सकता हैं।

3. Ranking :-

Ranking एक ऐसा factor है जो SEO के मायने से बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है और इसमें सबसे ज्यादा समय और मेहनत लगता है।

रैंकिंग का मतलब है की सर्च इंजन आपके pages को search engine के रिजल्ट्स में कितने नंबर पोजीशन पर show कर रहा है, और इसी प्रक्रिया को Ranking कहा जाता हैं।

सर्च इंजन वेबसाइट और ब्लॉग को SEO के बहुत सारे factors और contents की quality को जाँच करते हुए पेज की ranking करता है।

जिस भी वेबसाइट या ब्लॉग का SEO और contents की quality अच्छी होती हैं, उसी के अनुसार Google website की pages को रैंक करता है।

SEO के प्रकार :-

SEO मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं :

  1. On-Page SEO
  2. Off-Page SEO
  3. Technical SEO

Website को रैंक करवाने के लिए ये तीनो बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। तो आइये इन सभी के बारे में विस्तार से समझने की कोशिश करते हैं।

1. On-Page SEO क्या है :

यह तरीका आपके ब्लॉग पोस्ट के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हैं क्यूंकि इसमें हम अपने ब्लॉग के कंटेंट को optimize करते हैं।

On-Page SEO करने के लिए आपको बहुत सारे factors पे काम करना होता हैं, जिसके नाम कुछ इस प्रकार हैं :

  1. Keyword length
  2. Keyword in title
  3. SEO title width
  4. Keyword in slug
  5. Text length
  6. Meta description length
  7. Keyword Density
  8. Image Alt Tag
  9. Keyword in introduction
  10. Keyword in subheading
  11. Outbound links
  12. Internal links
  13. Flesch Reading Ease
  14. Passive voice
  15. Paragraph length
  16. Subheading distribution
  17. Transition words
  18. Sentence length

ये सभी On-Page SEO के महत्वपूर्ण factors हैं, जिसे आप अपने ब्लॉग पोस्ट में अप्लाई कर के पेज की optimization कर सकते हैं।

ऊपर बताये गए factors की मदद से आप आपने website को on page के लिए optimize कर सकते हैं और अपनी वेबसाइट को सर्च रिजल्ट्स में फर्स्ट पेज पर लेकर आ सकते हैं।

2. Off-Page SEO क्या है :

जिस तरह On-Page SEO, blog या website के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं ठीक उसी तरह से Off-Page SEO भी आपके website को rank करने में बहुत ज्यादा मदद करती हैं।

अपनी website या blog पोस्ट को search engine में Rank करवाने के लिए पोस्ट के link को internet पर promote करना होता है जिसे backlink बनाना बोला जाता है और इसी प्रक्रिया को off Page SEO कहा जाता हैं।

जब आप अपने post को internet पर promote और share करते हैं तो इससे search engine को कुछ signal जाते हैं । जिसके बाद search engine उस Post की Ranking को बढ़ाना शरू कर देती है।

Off-Page SEO के भी बहुत सारे factors हैं जिसे आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग पर अप्लाई करके अपने पोस्ट की रैंकिंग बढ़ा सकते हैं और अपने वेबसाइट पे ज्यादा से ज्यादा  Traffic बढ़ा सकते हैं।

आइए अब Off-Page SEO के कुछ तरीकों को देखते हैं, जिसके नाम कुछ इस प्रकार हैं :

  1. Create social media profile
  2. Bookmarking
  3. Search Engine Submission
  4. Directory Submission
  5. Classified Submission
  6. Question and Answering Site
  7. Guest Posting
  8. Forum Posting
  9. Blog Commenting

आप इन सभी तरीकों से अपने वेबसाइट को प्रमोट कर सकते हैं और अपने वेबसाइट के लिए backlinks बना सकते हैं, जो आपके वेबसाइट को सर्च इंजन में rank करने में बहुत ज्यादा मदद करती हैं।

3. Technical SEO क्या है :

Technical SEO आपके पुरे वेबसाइट को ranking में मदद करती है क्यूंकि इसमें कुछ ऐसे factors हैं जो SEO के मायने से बहुत ही महत्वपूर्ण है।

इस तरह की तकनीक में अपने वेबसाइट के user experience को improve करना होता है और यूजर एक्सपीरियंस को आसान बनान होता है।

आइए अब Technical SEO के कुछ तरीकों को देखते हैं, जिसकी मदद से user experience को आसान बनाया जा सके :

  1. Mobile friendly website
  2. Reduce Page Speed
  3. Used HTTPS
  4. Create Robot.txt file
  5. Create sitemap
  6. SEO Friendly URL
  7. website design
  8. Website Structure
  9. Check Broken Links
  10. Add Social Media Button
  11. Clear Page Cache

आप इन सभी चीज़ों का ध्यान रखते हुए अपने वेबसाइट के लिए Technical SEO कर सकते हैं और अपनी वेबसाइट को rank करवा सकते हैं।

SEO तकनीकों के प्रकार :-

SEO तकनीकों मुख्य दो प्रकार के होते हैं :

  1. White Hat SEO
  2. Black Hat SEO

1. White Hat SEO क्या है :-

जब आप अपने वेबसाइट के लिए सर्च इंजन के मापदंडो को follow करके या फिर natural way से SEO करते हैं तो उस तकनीक को ही White Hat SEO कहा जाता है।

सारे search engine इस तरह के तकनीक को पसंद करते हैं और आपके वेबसाइट को rank करने में भी मदद करते हैं।

यह तरीका आपके वेबसाइट और सर्च इंजन दोनों के लिए ही अच्छा होता है

2. Black Hat SEO क्या है :-

यह एक ऐसी तकनीक होती हैं, जो सर्च इंजन में जल्दी से रैंक करने के लिए सर्च इंजन के मापदंडो को तोड़कर SEO करती है।

इस तरह की तकनीक को अगर सर्च इंजन पहचान लेता है तो उस वेबसाइट को penalized किया जाता है और उसकी रैंकिंग को डाउन किया जाता है और यहां तक की ऐसी वेबसाइट को सर्च इंजन के रिजल्ट्स से भी पूरी तरह से हटा दिया जाता है।

इस तकनीक को सर्च इंजन बिलकुल भी पसंद नहीं करता है और यह तरीका आपके वेबसाइट को भी नुकसान पहुँचाता है।

SEO के क्या-क्या फायदे हैं :-

अगर आप ब्लॉग्गिंग करते हैं या फिर SEO से रिलेटेड कोई काम करना चाहते हैं तो आपके लिए SEO के बहुत सारे फायदे हैं, जिनमें से कुछ फायदें इस प्रकार हैं :

  • SEO की मदद से आप अपने वेबसाइट के Pages को सर्च इंजन के रिजल्ट्स में पहले स्थान पर लेके आ सकते हैं.
  • यह एक ऐसा तरीका है जिसमें बिना पैसे खर्च किये वेबसाइट और ब्लॉग के पेजेज को रैंक किया जाता हैं.
  • SEO ना सिर्फ सर्च इंजिन्स के लिए के लिए अच्छा होता हैं बल्कि अच्छे SEO प्रैक्टिसेज के होने से ये यूजर एक्सपीरियंस को बढ़ाने में भी मदद करता है और वेबसाइट के usability को भी बढ़ता है.
  • आपके वेबसाइट के सोशल मीडिया प्रमोशन के लिए भी बहुत बड़ी भूमिका निभाता है क्यूंकि जब आपके वेबसाइट के user experience(जो की Technical SEO द्वारा होता है) अच्छे होते हैं तभी आपके user आपके ब्लॉग को सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं.
  • अगर आप अपने वेबसाइट के लिए अच्छे से SEO करते हैं तो सर्च इंजन आपके वेबसाइट को आपके competitor वाले साइट्स से हमेशा आगे रहने में मदद करता है.
  • SEO के मदद से किसी भी ब्लॉग और वेबसाइट के ट्रैफिक को बढ़ाया जा सकता है।

SEO से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण terms :-

मैं अब आपको SEO से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण टर्म्स बताने जा रहा हूँ, जिसे जानना आपके लिए बहुत ही जरुरी है।

  • Anchor text : Anchor text का इस्तेमाल बैकलिंक बनाने के लिए किया जाता है, जब आप अपने वेबसाइट pages के backlinks बनाने के लिए Anchor text का इस्तेमाल करते हैं तो वह clickable होता है I
  • Alt Tag : इसका इस्तेमाल इमेज के अंदर कीवर्ड डालने के लिए किया जाता है और आप Alt Tag के मदद से ही images में कीवर्ड डालकर इसकी SEO कर सकते हैं.
  • Backlink : Backlink SEO के नज़रिए से बहुत ही महत्वपूर्ण है क्यूंकि यह आपके website को रैंक करवाने में सबसे ज्यादा मदद करता है. बैकलिंक बनाने के लिए आपको दूसरे के website पर अपने website के लिंक को जोड़ना होता है. 
  • SERP : SERP का पूरा नाम Search Engine Results Page है. SERP सिर्फ उन्ही pages को दिखाता है जो गूगल सर्च इंजिन्स के हिसाब से रिलेवेंट हों.
  • Outbound links : जब आप अपने ब्लॉग पोस्ट में किसी दूसरे वेबसाइट के ब्लॉग पोस्ट के लिंक को जोड़ते हैं तो उन्ही लिंक को Outbound links कहा जाता है.
  • Internal links : जब आप अपने ब्लॉग पोस्ट में अपना ही कोई दूसरे पोस्ट की लिंक जोड़ते हैं तो उस लिंक Internal links को ही कहा जाता है.
  • xml.sitemap : XML साइटमैप आपकी वेबसाइट के URL की एक सूची बना देता है जो सर्च इंजन के bots के लिए एक रोडमैप के रूप में काम करता है और उन्हें बताता है कि कौन सी सामग्री उपलब्ध है और उस तक कैसे पहुंचा जाए
  • Robots.txt : Robots.txt एक टेक्स्ट फ़ाइल है जो सर्च इंजन के बोट्स को बताती है कि आपकी साइट पर कौन से पेज क्रॉल करने हैं और किन pages को क्रॉल नहीं करने हैं.

आज आपने क्या सीखा :-

आज के इस पोस्ट में आपको SEO के बारे में बहुत कुछ सिखने को मिला होगा जैसे SEO क्या है, SEO कितने प्रकार के होते हैं, SEO कैसे काम करता है, SEO के क्या-क्या फायदे हैं, इत्यादि।

मुझे उम्मीद हैं की आपको SEO और इनसे जुड़ी सारी जानकारी के बारे में सब-कुछ अच्छे से समझ आ गए होंगे और SEO से संबंधित सारे प्रश्नो का जवाब मिल गया होगा।

अगर आप मुझसे SEO के बारे में कुछ भी पूछना चाहते हैं तो आप नीचे comments section में पूछ सकते हैं।

अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो और कुछ सिखने को मिला हो तो आप इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

Please Share :-


Saurav Bhagat

I am a passionate Blogger, Content Writer, SEO expert, and Freelancers.

4 Comments

Rohit · August 5, 2021 at 3:54 pm

Aapne SEO ke baare kya mast jaankaari diya hai. Aaj toh maine SEO ke baare me sab jaan liya hai.
Thank you so much.

anurag rai · August 18, 2021 at 10:12 am

thanks ji

    Saurav Bhagat · August 18, 2021 at 10:43 am

    Most welcome.
    Aap isi tarah hamaare blog par visit karte rhe.

Leave a Reply