CTET एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा होती है और इस परीक्षा की माध्यम से केंद्रीय स्तर के विद्यालयों में अध्यापक पद पर भर्ती की जाती है।

CTET का पूरा नाम 'Central Teacher Eligibility Test' होता है।

Central Teacher Eligibility Test को हिंदी में 'केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा' बोला जाता है।

इस परीक्षा को आयोजित करने का लक्ष्य देश में शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देना है और  अच्छे शिक्षकों को सरकारी स्कूल में भर्ती करना है।

CTET की परीक्षा सीबीएसई के द्वारा साल में दो बार फरवरी और सितम्बर के महीने में आयोजित की जाती है।

CTET की परीक्षा पास करने के बाद आप किसी भी सरकारी स्कूल में शिक्षक के तौर पर पढ़ा सकते हैं।

CTET परीक्षा देने के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 17 वर्ष होनी चाहिए और अधिकतम उम्र की कोई सीमा तय नहीं की गयी है। 

CTET परीक्षा देने के लिए उमीदवार की 12th में 45% नंबर होनी चाहिए और ग्रेजुएशन में 50% नंबर होनी चाहिए।

इस परीक्षा में पास होने के लिए उम्मीदवार को 60% नंबर लाने होते हैं और इसकी मार्कशीट 7 वर्षो के लिये वैध रहती है।