IBPS भारत की एक स्वायत्त एजेंसी है जो कई भारतीय राष्ट्रीय बैंकों को भर्ती, प्लेसमेंट, और पदोन्नति के लिए सेवाएं प्रदान करती है।

IBPS का पूरा नाम 'Institute Of Banking Personnel Selection' होता है। 

IBPS को हिंदी में 'बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान' के नाम से जाना जाता है।

IBPS की शुरुआत 1975 में कार्मिक चयन सेवा (PSS) के रूप में किया गया था। साल 1984 में इसे RBI की मदद से एक स्वतंत्र संस्था बना दिया गया।

IBPS के अंदर 19 Banks के एग्जाम लिए जाते हैं और कर्मचारियों की नौकरियों के लिए आवेदन किया  जाता है।

IBPS के द्वारा सभी प्रकार की जॉब बैंक के लिए निकाली जाती है जिसमें Clerk, PO, और RRB के पद शामिल हैं।

IBPS के अंदर बैंक का एग्जाम मुख्य रूप से दो चरण में ली जाती है जिनमे प्रीलिम्स एग्जाम और मेंस एग्जाम शामिल होती है।

IBPS एग्जाम के लिए न्यूनतम उम्र 20 वर्ष और अधिकतम उम्र 30 वर्ष होनी चाहिए और उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए।

यह एग्जाम देने के लिए उम्मीदवार के पास मान्यता प्राप्त किसी भी विषय में ग्रेजुएशन  की डिग्री होनी चाहिए।