MPIN Kya Hota Hai? – MPIN क्या है और कैसे बनाए? (2022)

Spread the love

आज का समय डिजिटल हो चूका है जिस वजह से बहुत सारे काम ऑनलाइन होने लगे हैं। जैसे की आप लोगों को पता ही होगा की आजकल सभी लोग UPI, नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग का ज्यादातर इस्तेमाल कर रहे हैं। इसलिए आज मैं आपको इन सभी को सुरक्षित रखने के लिए MPIN Kya Hota Hai और इससे रिलेटेड सभी कुछ बताने वाला हूँ।

आज सब कुछ ऑनलाइन हो जाने के वजह से ज्यादातर लोग ऑनलाइन ही पैसों की लेन देन करने लग गए हैं क्यूंकि आप इसमें घर बैठे किसी को भी कुछ सेकंड में ही पैसे भेज सकते हैं।

लेकिन जिस काम में कुछ अच्छाई होती है उनमे कुछ खामियां भी होती है क्यूंकि ऑनलाइन सबसे ज्यादा धोकाधड़ी होने के संभावने होते हैं। कुछ लोग आपके लापरवाही की वजह से मिनटों में आपके पैसे आपके बैंक अकाउंट से उड़ा सकते हैं।

इसलिए ऑनलाइन भुगतान में सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए MPIN लाया गया है जिसके इस्तेमाल से आप अपने ऑनलाइन पैसे ट्रांज़ैक्शन को सुरक्षित रख सकते हैं। इसलिए आज के आर्टिकल में आपको MPIN kya hota hai, MPIN ka matlab kya hota hai, MPIN kaise banaye, MPIN full form in hindi, एमपिन बनाने के फायदे, इत्यादि के बारे में सारी जानकारी मिलने वाली है।

MPIN एक सिक्योरिटी कोड होता है जो आपके ऑनलाइन पैसों की लेन देन को सुरक्षित बनाए रखता है इसलिए आप भी इसका उपयोग जरूर करें। अगर आप MPIN के बारे में सब कुछ सीखना और जानना चाहते हैं तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

एमपिन क्या है? (MPIN kya hota hai)

एमपिन ऑनलाइन मोबाइल बैंकिंग में उपयोग किए जाने वाला एक सिक्योरिटी कोड होता है जिसका इस्तेमाल ज्यादातर ऑनलाइन मोबाइल से पैसे लेन-देन करते समय किया जाता है।

एमपिन सामन्यता 4 या 6 अंकों का एक कोड होता है जो आपके ऑनलाइन ट्रांज़ैक्शन को सुरक्षित बनाता है और आप इस कोड को अपने तक ही सिमित रखे यानी की आप इस कोड को किसी के साथ शेयर न करें।

जिस तरह से आपका एटीएम का पिन नंबर होता है ठीक उसी तरह से ऑनलाइन पैसे की लेन देन करने पर इस कोड का इस्तेमाल किया जाता है। इसलिए आप इसे किसी के साथ साझा ना करें।

एमपिन कोड आप घर बैठे अपने मोबाइल से बना सकते हैं और इसे आप दो तरीकें से बना सकते हैं जिसके बारे में हमने निचे विस्तार से बताया है इसलिए आप इस आर्टिकल को पुरे ध्यान से पढ़िए।

MPIN full form in hindi –

MPIN का फुल फॉर्म ‘Mobile Banking Personal Identification Number’ होता है। Mobile Banking Personal Identification Number का हिंदी ‘मोबाइल बैंकिंग व्यक्तिगत पहचान संख्या’ होता है।

एमपिन का मतलब क्या होता है? (MPIN meaning in hindi)

MPIN Kya Hota Hai

एमपिन का मतलब होता है एक व्यक्तिगत पहचान संख्या या आप इसे सेक्योरिटी कोड से भी समझ सकते हैं। एमपिन एक व्यक्तिगत पहचान सेक्योरिटी कोड होता है जिसका इस्तेमाल मोबाइल बैंकिंग सर्विस में किया जाता है।

एमपिन का इस्तेमाल हर वो व्यक्ति कर सकता है जो ऑनलाइन किसी भी तरह का पैसे का लेन देन करता हो। एमपिन की मदद से आप ऑनलाइन पैसे ट्रांज़ैक्शन प्रोसेस को सुरक्षित रख सकते हैं और धोकाधड़ी से बच सकते हैं।

एमपिन कैसे बनाते हैं? (MPIN Kaise banaye)

अगर आप मोबाइल बैंकिंग सेवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आप दो तरीकों से एमपिन बना सकते हैं जिनमे पहला तरीका है आप मोबाइल बैंकिंग रजिस्ट्रेशन करवाकर बैंक से MPIN प्राप्त कर सकते हैं और दूसरा घर बैठे ही UPI App या USSD कोड की मदद से MPIN बना सकते हैं।

मैं आपको इस आर्टिकल में ऑनलाइन तरीका बताने वाला हूँ जिससे आप घर बैठे खुद से अपना एमपिन बना सकते हैं तो चलिए शुरू करते हैं।

1. UPI की मदद से MPIN बनाने का तरीका –

  • सबसे पहले आपको किसी भी UPI App जैसे Paytm, Bhim, Google Pay, PhonePe, आदि ऐप को अपने मोबाइल में डाउनलोड करें और आप अपने मोबाइल नंबर से रजिस्टर करें।
  • अब आपको जिस भी बैंक का MPIN बनाना है उस बैंक को UPI ऐप से लिंक करें।
  • इसके बाद अब आपको Set MPIN का ऑप्शन दिखेगा उसपे क्लिक करें।
  • अब आपको 4 डिजिट का कोई सा भी नंबर एंटर करना है जो आपका MPIN कोड होगा और उसके बाद कन्फर्म करें।
  • अब आपका MPIN सफलतापूर्वक बन चूका है।

2. USSD कोड से MPIN बनाने का तरीका –

  • USSD कोड से MPIN बनाने के लिए आपको सबसे पहले अपने मोबाइल नंबर से *99# नंबर को डायल करना है।
  • अब आपको अपना USSD सेवा से अपना बैंक अकाउंट लिंक करना होगा इसके लिए आप IFSC कोड के शुरुवाती 4 नंबर लिखकर सेंड करें।
  • अब इसके बाद आपको फ़ोन में बताया जाएगा की अगले मेनू पर जाने के लिए 7 दबाना है।
  • इसके बाद MPIN जनरेट करने के लिए आपको 1 दबाना होगा।
  • अब आपको अपना MPIN सेट करना है तो आप अपने अनुसार MPIN बनाकर सबमिट करें।
  • अब आपका USSD कोड तरीकें से भी MPIN सफलतापूर्वक बन चूका होगा।

एमपिन बनाने की आवश्यकता क्यों पड़ती है?

एमपिन कोड एक यूनिक नंबर होता है जो सभी व्यक्ति का अलग अलग होता और इस कोड का इस्तेमाल मोबाइल बैंकिंग में होता है जो की एक पैसे ट्रांज़ैक्शन की प्लेटफार्म होती है जिस वजह से एमपिन बनाने की आवश्यकता पड़ती है।

एमपिन कोड आपके मोबाइल बैंकिंग में होने वाले सभी ट्रांज़ैक्शन को सुरक्षित रखता है और सभी तरह के धोखाधडी से बचाए रखता है इसलिए आप इसे जरूर बना लें।

एमपिन आपके ऑनलाइन मोबाइल बैंकिंग के लिए 2 स्टेप वेरिफिकेशन का काम करती है और इस कोड के बिना कोई भी दूसरा व्यक्ति आपके मोबाइल बैंकिंग ऐप को नहीं ओपन कर सकता है।

एमपिन का इस्तेमाल किन जगहों पे किया जाता है?

एमपिन का उपयोग कई जगहों पर किया जाता है जिनमे से कुछ इस प्रकार हैं –

  • Mobile App Banking
  • SMS banking
  • USSD banking
  • UPI apps
  • IMPS
  • IVR

एमपिन बनाने के फायदे?

एमपिन बनाने के फायदे कुछ इस प्रकार हैं –

  • MPIN मोबाइल बैंकिंग की सेवा को सुरक्षित बनाता है |
  • कोई भी व्यक्ति बिना MPIN के आपके पैसों की ट्रांज़ैक्शन नहीं कर सकता है।
  • MPIN केवल 4 अंकों का कोड होता है, जिस वजह से इसे याद रखना काफी आसान होता है।
  • इस कोड को आप घर बैठे अपने मोबाइल से बना सकते हैं ये पुराने वाले कोड को बदल सकते हैं।
  • आप चाहे तो केवल यूजर आईडी और पासवर्ड ही बनाकर इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन MPIN कोड से लॉगिन करना आसान हो जाता है।

FAQsMPIN ka matlab kya hota hai

Q: MPIN का पूरा नाम क्या है?

Ans: MPIN का पूरा नाम ‘Mobile Banking Personal Identification Number’ होता है।

Q: क्या खुद से MPIN बनाए जा सकते हैं?

Ans: जी हाँ, आप खुद से ऑनलाइन MPIN बना सकते हैं।

Q: MPIN का इस्तेमाल कौन कर सकता है?

Ans: MPIN का इस्तेमाल हर वो व्यक्ति कर सकता है जो ऑनलाइन किसी भी तरह का ट्रांज़ैक्शन का सुविधा ले रहा हो।

Q: अगर आप अपनी MPIN भूल जाए तो क्या करें?

Ans: अगर आप कभी अपनी MPIN का नंबर भूल जाते हैं तो आप नेट बैंकिंग की मदद से एक नया MPIN बना सकते हैं।

Q: MPIN का इस्तेमाल कहाँ कहाँ किया जाता है?

Ans: MPIN का इस्तेमाल आप UPI App, IVR, SMS Banking, IMPS, USSD Banking, आदि जगहों पर कर सकते हैं।

आज आपने क्या सीखा –

आज के इस आर्टिकल में हमनें MPIN के बारे में बहुत कुछ जाना है MPIN kya hota hai, MPIN meaning in hindi, MPIN kaise banaye, MPIN full form in hindi, एमपिन बनाने के फायदे, इत्यादि के बारे में बात किया है।

मुझे उम्मीद है की इस आर्टिकल में बतायी गयी सारी बातें आपको अच्छी लगी होगीं और सब कुछ समझ आ गया होगा। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको एमपिन के बारे में सब कुछ पता चल गया होगा।

अगर आप मुझसे एमपिन से रिलेटेड कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो नीचे comment कर के पूछ सकते हैं और अगर कोई सुझाब हो तो भी आप बता सकते हैं।

अगर हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हों तो आप अपने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

Read Also –


Spread the love

Leave a Comment

Bhediya Box Office Collection: बॉक्स ऑफिस पर रफ़्तार हुयी भेड़िया … Drishyam 2 Box Office Collection: बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही… जानिए Bits Pilani कॉलेज के बारे में पूरी जानकारी जानिए ISKCON Temple के बारे में सभी जानकारी FIFA world cup 2022: जानिए फीफा वर्ल्ड कप के बारे में पूरी जानकारी